नमस्कार आपका स्वागत है

नमस्कार  आपका स्वागत है
नमस्कार आपका स्वागत है

Friday, August 26, 2016

राग यमन !!





ढलती हुई साँझ की कोमलता
स्वरों की उड़ान
पंखों में भरा सारा  विहान
ठहरे हुए पल ..
पल छिन ,
स्वरों की साध लिए ..
आ ही पहुंचे मुझ तक......






No comments:

Post a Comment